SEARCH SOME THING...

बुधवार, 3 अक्तूबर 2018

KBC 10: इस सवाल के जवाब ने बिनीता जैन को बना दिया करोड़पति, लेकिन..

KBC 10: इस सवाल के जवाब ने बिनीता जैन को बना दिया करोड़पति, लेकिन..

असम के गुवाहटी से हैं बिनिता जैन. वह बच्चों को ट्यूशन पढ़ाती हैं. उनके दो बच्चे हैं और बिनिता सिंगल मदर हैं.

कौन बनेगा करोड़पति के सीजन-10 का 2 अक्टूबर का एपिसोड काफी अहम रहा. इसी एपिसोड में केबीसी को मिला इस सीजन का पहला करोड़पति. असम की बिनिता जैन एक करोड़ रुपये के सवाल का सही जवाब देकर करोड़पति बन गईं. इसके बाद उनके सामने आया सात करोड़ का सवाल.




सवाल था- किसने 1867 में पहले स्टॉक टिकर का अविष्कार किया? विकल्प थे- एडवर्ड कैलहन, थॉमस एडिसन, डेविड गेस्टेटनर, रॉबर्ट बारक्ले. इस सवाल का जवाब मालूम होने के बाद भी बिनिता ने खेल क्विट कर लिया.

जब अमिताभ ने उनसे पूछा कि आप एक जवाब चुनिए. तब बिनिता ने चुना एडवर्ड कैलहन. ये जवाब सही था. अगर वह खेल क्विट ना करतीं, तो वो सात करोड़ रुपये जीत जातीं. फिर भी उनका यहां तक का सफर काफी दिलचस्प और प्रेरणादायक रहा.



पहले तो बिनिता 50 लाख के सवाल पर ही क्विट करना चाहती थीं , मगर जोड़ीदार के रूप में आए उनके बेटे ने उन्हें सही जवाब बताने में मदद की और रिस्क लेकर आगे बढ़ने के लिए कहा और बिनिता 50 लाख रुपये जीत गईं.

सवाल था कि मार्क ट्वेन ने इनमें से किस शहर को सभ्यता से भी प्राचीन कहा है. ऑप्शन थे -दिल्ली, प्रयाग, ढाका और वाराणसी. सवाल का जवाब था - वाराणसी.


इसके बाद बिनिता के सामने आया एक करोड़ का सवाल.
सवाल था- भारत में किस मामले को सर्वोच्च न्यायालय के 13 न्यायधीशों की सबसे बड़ी संविधान बेंच द्वारा सुना गया था? विकल्प थे- गोलकनाथ केस, अशोक कुमार ठाकुर केस, शाह बानो केस, केशवानंद भारती केस.

इस सवाल को पढ़ते ही बिनिता ने सही जवाब सोचकर अमिताभ बच्चन के साथ शेयर भी किया, मगर एक करोड़ की धनराशि के चलते उन्हें इसका जवाब लॉक करने में संकोच होता रहा. काफी देर तक सोचने के बाद उन्होंने जवाब लॉक किया. और उनका जवाब सही था. सही जवाब था- केशवानंद भारती केस

इस सवाल का सही जवाब देते हुए अमिताभ ने बिनिता को सीट से उठकर गले लगाया और तालियों की गड़गड़ाहट से बिनिता को बधाइयां दी गईं. एक करोड़ रुपये की धनराशि के साथ बिनिता को एक महेंद्रा मराजो कार भी ईनाम में सौंपी गई.


एक करोड़ की ईनामी धनराशि के बाद बिनिता जैन ने न सिर्फ अमिताभ को असम का पारंपरिक परिधान उपहार में दिया और उन्होंने कहा कि अमिताभ जितना हैंडसम व्यक्ति उन्होंने अपने जीवन में नहीं देखा है.

इसी एपिसोड के दौरान पता चला कि बिनिता के बेटे रोहित डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहे हैं और बेटी काव्या दिल्ली यूनिवर्सिटी से ही अंग्रेजी में ऑनर्स कर चुकी है.

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के छोटे परदे का शो 'कौन बनेगा करोड़पति' सीजन 10 दर्शकों को काफी पसंद आ रहा है। इस सीजन में अब तक जितने भी प्रतियोगी आए कोई भी यहां पर 50 लाख का पड़ाव पार नहीं कर पाया। लेकिन असम की रहने वाली बिनीता जैन ने यह आंकड़ा न केवल पार किया बल्कि इस शो की पहली करोड़पति प्रतियोगी भी बन गई हैं। 1 करोड़ रुपए जीतने पर बिनीता जैन ने अपनी जिंदगी के संघर्ष को भी शो में बयां किया है। 
1 करोड़ रुपए जीतने पर बिनीता जैन ने पहले अपनी खुशी जाहिर की फिर जिंदगी के संघर्ष को याद करते हुए एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि वह साल 2003 से जीवन यापन के लिए अकेले ही संघर्ष कर रही हैं। बिनीता जैन ने कहा कि साल 2003 में उनके पति एक बिजनेस ट्रिप पर गए थे लेकिन फिर वो कभी वापस नहीं आए।
अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए बिनीता जैन ने बताया है कि उन्हें बाद में पता चला कि उनके पति का आतंकवादियों ने अगवा कर लिया है। बिनीता के परिवारवालों ने पति को ढूंढने की बहुत कोशिश की लेकिन सारी कोशिशें नाकाम रहीं। उन्होंने पति का करीब डेढ़ साल तक इंतजार भी किया लेकिन वो वापस नहीं आए। इसके बाद बिनीता ने जीवन यापन करने के लिए बच्चों को ट्यूशन पढ़ाना शुरू कर दिया।




3 टिप्‍पणियां:

KVSKIDSZONE KKZ ने कहा…

Really inspirational Lady..

बेनामी ने कहा…

Nice game by V.Jain

बेनामी ने कहा…

Keep it up KBC!!

YOU CAN COMMENT/SEND/CONTACT US HERE

नाम

ईमेल *

संदेश *