SEARCH SOME THING...

गुरुवार, 5 अप्रैल 2018

दिव्या भारती की जीवन की कहानी – Divya Bharti Biography

Divya Bharti – दिव्या भारती एक भारतीय फिल्म अभिनेत्री थी, जिन्होंने 1990 के शुरुआती दिनों में कई व्यावसायिक रूप से सफल हिंदी और तेलुगु भाषा फिल्मों में अभिनय किया था। वह बहुत ही कम समय में खुद को 90 के दशक की प्रमुख अभिनेत्री के रूप में स्थापित करने में कामयाब रही।

दिव्या भारती की जीवन की कहानी – Divya Bharti Biography


दिव्या भारती का जन्म मुम्बई में ओम प्रकाश भारती के घर में हुआ, जो एक बीमा अधिकारी थे और उनकी पत्नी का नाम मीता भारती था। दिव्या भारती के अपने पिता की पहली शादी से हुयी संतान थी उन्हें और एक छोटा भाई कुणाल और एक छोटी बहन पूनम हैं। अपने शुरुआती वर्षों में, दिव्या भारती अपने चुलबुले व्यक्तित्व के लिए जानी जाती थी और सब लोग उन्हें गुड़िया कहते थे।

दिव्या भारती करियर – Divya Bharti Career

दिव्या भारती ने बहुत छोटी उम्र में फिल्मों में कैरियर की शुरुआत की, और 14 साल की उम्र में उनकी प्रयास शुरू हो गये। कई असफल प्रयासों के बाद, उन्होंने 16 वर्ष की उम्र के सफल तेलुगु फिल्म “बोब्बिली राजा” से सन् 1990 में की। शुरुआती समय में भारती को कम महत्व वाली भूमिकाएँ दी जाती थीं। फ़िल्मी सफर में उन्हें सफलता हिंदी फिल्म विश्वात्मा से मिली। इसी फिल्म के “सात समुन्दर पार गाने” से उन्हें एक अलग पहचान मिली।
दिव्या भारती ने क्रमशः “शोला और शबनम” और “दीवाना” जैसे फिल्मों में शाहरुख़ खान, गोविंदा और ऋषि कपूर जैसे प्रशंसनीय अभिनेताओं के साथ सफलता हासिल की; जिसके बाद में सर्वश्रेष्ठ महिला पदार्पण के लिए उन्हें फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला। उन्होंने 1992 और 1993 के बीच 14 से अधिक हिंदी फिल्मों में अभिनय किया, जिसका हिंदी सिनेमा में कभी ना तुटनेवाले रिकॉर्ड बना गए।
उनकी अंतिम पूरी की हुई फिल्में सह अभिनेता कमल सदानाह के साथ “रंग”, और अभिनेता जैकी श्रॉफ के साथ “शतरंज”, जिन्हें दिव्या भारती के मृत्यु के बाद रिलीज किया गया।
दिव्या भारती को अपने सम्पूर्ण करियर में कई कठिनाईयों का सामना करना पड़ा, उन्होंने खुद को ढूंढा और स्वयं का बॉलीवुड में एक सफल मुकाम बनाने में कामयाब भी रहीं। लेकिन 1993 में हुई उनकी रहस्मयी मृत्यु से उनका करियर भी समाप्त हो गया।

दिव्या भारती व्यक्तिगत जीवन – Divya Bharti Personal Life

शोला और शबनम की शूटिंग में गोविंदा के माध्यम से दिव्या भारती की मुलाकात साजिद नाडियादवाला से हुईं और जल्द ही दोनों एक दूसरे के साथ प्यार में पड़ गए। 10 मई 1992 को दिव्या भारती ने नाडियाडवाला से शादी की। उन्होंने अपने विवाह के बाद इस्लाम धर्म को कबूल किया और उसका नाम दिव्या भारती से बदल कर साना नाडियाडवाला हो गया।
दिव्या भारती की मृत्यु – Divya Bharti Death
5 अप्रैल 1993 को, लगभग रात के 11 बजे, दिव्या भारती, मुंबई के वर्सोवा के अपने तुलसी अपार्टमेंट के पांचवें मंजिल की बालकनी से गिर गई। उन्हें कूपर अस्पताल में एक आपातकालीन विभाग में ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित किया।
मृत्यु के तत्काल कारण सिर के पीछे भारी चोट और ज्यादा रक्तस्राव बताया गया और लेकिन मीडिया ने कई कारणों को परिचालित किया था, जिसमें शराब के प्रभाव में गिरने, किसी के द्वारा, आत्महत्या, और उनके पति का अंडरवर्ल्ड माफिया के साथ भागीदारी यह बात का सदमा ये सब शामिल हैं।
जांच 1998 में मुंबई पुलिस ने की थी और मृत्यु के कारण आकस्मिक मृत्यु के रूप में बताया गया था लेकिन उनकी मृत्यु का असली कारण आज भी रहस्य बना हुआ हैं । 7 अप्रैल 1993 को मुंबई में विले पार्ले श्मशान में उनका अंतिम संस्कार किया गया।
दिव्या भारती की पूरी फिल्मों में से दो रंग और शतरंज उनकी मृत्यु के कई महीनों बाद रिलीज हुईं। जब उनकी मृत्यु हुई तब उन्होंने अनिल कपूर के साथ फ़िल्म “लाडला” के आधे से ज्यादा भाग को चित्रित किया था। लेकिन बाद में श्रीदेवी को उनकी भूमिका में पुनः किया गया।
उन्हें कई अन्य फिल्मों में जगह दी गई थी, जिसने उन पर मोहो, करर्तव्य, विजयापथ और आंदोलन जैसे हस्ताक्षर किए थे। उनकी अपूर्ण तेलुगू फिल्म थॉली मुंधु का आंशिक रूप से भारतीय अभिनेत्री रंभा ने पूरा किया था, जो थोड़ी थोड़ी दिव्या भारती के समान थी और इसलिए उनके लिए फिल्म के कुछ दृश्यों को पूरा किया।
दिव्या भारती के जीवन के आधार पर एक फिल्म, “लव बिहंड द बॉर्डर पाइप” लाइन में थी, लेकिन कभी नहीं बनाई गई थी।
चाहे दिव्या भारती आज हमारे बिच में नहीं रही फिर भी वो आज भी अपने चाहतों के दिलो पर राज कर रही हैं।
दिव्या भारती की फिल्में – Divya Bharti Movies
  • Bobbili Raja (Telugu) – 1990
  • Vishwatma – 1992
  • Shola Aur Shabnam – 1992
  • Dil Ka Kya Kasoor – 1992
  • Deewana – 1992
  • Geet – 1992
  • Jaan Se Pyaara – 1992
  • Dil Aashna Hai – 1992
  • Balwaan – 1992
  • Rang – 1993
  • Kshatriya – 1993

कोई टिप्पणी नहीं:

YOU CAN COMMENT/SEND/CONTACT US HERE

नाम

ईमेल *

संदेश *